डीएवी में बजा चुनावी डंका, प्रचार के दौरान भिड़े एबीवीपी-एनएसयूआई कार्यकर्ता

Manthan India
0 0
Read Time:5 Minute, 51 Second

डीएवी पीजी कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव का डंका बज गया है। वहीं, प्रचार के दौरान एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। बृहस्पतिवार को कॉलेज प्रशासन ने चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी। शुक्रवार से कॉलेज में नामांकन पत्रों की बिक्री शुरू होगी।  डीएवी कॉलेज में प्राचार्य डॉ. केआर जैन और मुख्य चुनाव अधिकारी प्रो. आरके शर्मा ने बृहस्पतिवार को अधिसूचना जारी की। उन्होंने बताया कि 16 और 17 दिसंबर को नामांकन पत्रों की बिक्री होगी। 17 दिसंबर को ही सुबह दस से दोपहर 1.30 बजे तक नामांकन होंगे।

इसी दिन शाम को नामांकन सूची जारी की जाएगी। 19 दिसंबर को प्रत्याशियों को नाम वापसी का मौका दिया जाएगा। नामों में त्रुटि सुधार किया जाएगा। इसी दिन शाम को प्रत्याशियों की अंतिम सूची प्रकाशित की जाएगी। 24 दिसंबर को सुबह 8.30 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक मतदान होगा। इसी दिन मतगणना की जाएगी। यह चुनाव अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव, सहसचिव, कोषाध्यक्ष, विवि प्रतिनिधि और कार्यकारिणी के छह सदस्यों के लिए होगा। उम्मीदवारों की अधिकतम खर्च सीमा 50 हजार रुपये होगी।

उम्मीदवारों को आयु सीमा में दो साल की राहत  
हाईकोर्ट के आदेश के तहत कोरोनाकाल के चलते डीएवी के छात्रनेताओं को चुनाव लड़ने के लिए आयु सीमा में दो साल की छूट दी गई है। एक जुलाई 2022 की कटऑफ डेट पर ग्रेजुएशन वाले छात्रों की आयु 17 से 22 साल और पोस्ट ग्रेजुएशन छात्रों की अधिकतम आयु 25 साल है। लेकिन, हाईकोर्ट के आदेश के तहत अधिकतम आयु में दो साल की छूट रहेगी। 

चुनाव प्रचार के दौरान भिड़े एबीवीपी-एनएसयूआई कार्यकर्ता 
डीएवी पीजी कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव के प्रचार के दौरान एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकर्ता भिड़ गए। पुलिस और कॉलेज प्रशासन ने बीचबचाव कर हालात संभाले। बृहस्पतिवार सुबह से ही एबीवीपी के कार्यकर्ता कैंपस में चुनाव प्रचार कर रहे थे। रैली के रूप में चारों ओर चक्कर लगा रहे थे। आठ पूर्व अध्यक्षों की एबीवीपी में वापसी के बाद से कार्यकर्ताओं में जोश चरम पर है। इस बीच एनएसयूआई कार्यकर्ता भी रैली के रूप में प्रचार करने लगे। सभी अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए प्रचार सामग्री भी बांट रहे थे।

इसी बीच एबीवीपी-एनएसयूआई कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। दोनों ने एक-दूसरे के ऊपर प्रचार सामग्री उछाल दी। देखते ही देखते बात हाथापाई तक पहुंच गई। दोनों गुटों के बीच मामूली मारपीट हुई लेकिन कैंपस में तैनात पुलिस और कॉलेज प्रशासन ने मामला संभाल लिया। इसके बाद पुलिस ने कैंपस खाली करा दिया। अब कॉलेज प्रशासन नियमानुसार प्रचार की अनुमति देगा ताकि टकराव न हो।

दयाल बिष्ट एबीवीपी के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी 
डीएवी पीजी कॉलेज के छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी ने दयाल बिष्ट को अध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाया है। वहीं, एसजीआरआर कॉलेज में पार्थ जुयाल को मैदान में उतारा है। बृहस्पतिवार को एबीवीपी के प्रांत कार्यालय में संगठन पदाधिकारियों की बैठक में विभिन्न कॉलेजों में दावेदारों के नामों पर चर्चा की गई। देर शाम डीएवी पीजी कॉलेज में अध्यक्ष पद के प्रत्याशी के लिए दयाल सिंह बिष्ट के नाम पर मुहर लग गई। एबीवीपी के महानगर मंत्री अभिजीत सिंह ने उनके नाम की घोषणा की। दयाल हाल ही में एबीवीपी में घर वापसी करने वाले आठ पूर्व छात्रसंघ अध्यक्षों के साथ ही संगठन में वापसी करने वालों में शामिल हैं।

माना जा रहा है कि दयाल के नाम के चयन में बागी गुट और एबीवीपी पदाधिकारियों के बीच पहले से ही समझौता हो गया था। वहीं, एबीवीपी ने एसजीआरआर पीजी कॉलेज के लिए पार्थ जुयाल को अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित किया है। उपाध्यक्ष पद पर आशीष सिंह और महासचिव पद पर नितिन चौहान, सहसचिव पद पर मनजीत सिंह, कोषाध्यक्ष पद पर ईरम फातिमा, विश्वविद्यालय प्रतिनिधि पद पर बलवीर कुंवर को प्रत्याशी घोषित किया गया।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नौकर के बयानों में विरोधाभास से अटकी विनोद आर्य की गिरफ्तारी, लगा है कुकर्म के प्रयास का आरोप

मालिश के बहाने कुकर्म करने की कोशिश के आरोपी पूर्व मंत्री डॉ. विनोद आर्य की गिरफ्तारी पीड़ित के कोर्ट में दिए बयान के बाद अटक गई है। दरअसल कोर्ट में दिया गया गया एफआईआर में दर्ज कराए गए आरोपों से मेल नहीं खाता।  पुलिस अब कोर्ट से मिली धारा 164 […]

You May Like

Subscribe US Now