सुधरी उत्तराखंड की रैंकिंग, छह जिले शीर्ष 127 में, ऊधमसिंह नगर का सबसे खराब प्रदर्शन

Manthan India
0 0
Read Time:3 Minute, 42 Second

जल जीवन मिशन के तहत चल रहे कार्यों के मामले में उत्तराखंड की रैंकिंग में सुधार देखने को मिला है। जल शक्ति मंत्रालय ने नवंबर के जो आंकड़े जारी किए हैं, उनमें देश के शीर्ष-127 जिलों में उत्तराखंड के छह जिले शामिल हो गए हैं। पिछले माह इनकी संख्या पांच थी। वहीं, हरिद्वार की रैंकिंग में सुधार आया है जबकि ऊधमसिंह नगर का प्रदर्शन अभी भी सबसे खराब है।

जल शक्ति मंत्रालय ने जल जीवन मिशन के कार्यों को प्रोत्साहित करने के लिए जल सर्वेक्षण की शुरुआत की थी। उत्तराखंड का प्रदर्शन राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर नजर आ रहा है। इस बारछह जिले ऐसे हैं, जिन्हें 75 से 100 प्रतिशत कवरेज की हाई अचीवर श्रेणी में स्थान पाया है।

छह जिले ऐसे हैं, जिन्होंने 50 से 75 प्रतिशत कवरेज की अचीवर श्रेणी में स्थान बनाया है। एक जिला ऐसा है, जो कि 25 से 50 प्रतिशत कवरेज की परफॉर्मर श्रेणी में शामिल हुआ है। पेयजल निगम के एमडी उदयराज सिंह का कहना है कि निश्चित तौर पर उत्तराखंड की रैंकिंग में बड़ा सुधार अच्छा संकेत है।

75-100 प्रतिशत कवरेज श्रेणी में देश के शीर्ष 127 में यह जिले
जिले का नाम-   अक्तूबर की रैंक     नवंबर की रैंक
पिथौरागढ़-              63-                60
देहरादून-                70-                47
उत्तरकाशी-             73-                58
चमोली-                  79-                70
बागेश्वर-                  87-                59
रुद्रप्रयाग- –                                  86
(नोट- पिछले माह रुद्रप्रयाग 50-75 श्रेणी में  77वीं रैंक पर था)50 से 75 प्रतिशत कवरेज श्रेणी में देश के शीर्ष 168 में यह जिले

जिले का नाम-    अक्तूबर की रैंक  नवंबर की रैंक
पौड़ी गढ़वाल-           35-               27
टिहरी गढ़वाल-         38-                30
चंपावत-                  90-                45
नैनीताल-                 97-                72
अल्मोड़ा-               139-                128
हरिद्वार- –                                       31
(नोट- पिछले माह हरिद्वार 25-50 श्रेणी में सातवीं रैंक पर था)25 से 50 प्रतिशत कवरेज श्रेेेणी में देश के शीर्ष 201 में यह जिले
जिले का नाम-    अक्तूबर की रैंक- नवंबर की रैंक
ऊधमसिंह नगर-   79-                    41

ऐसे होती है रैंकिंग
जल सर्वेक्षण में चार रैंक में नंबर दिए गए हैं। पहली फ्रंट रनर श्रेणी है, जिसमें वे जिले शामिल हैं, जिनमें जल जीवन मिशन के लक्ष्य के सापेक्ष 100 प्रतिशत काम हुए हैं। दूसरी हाई अचीवर श्रेणी में वे जिले शामिल हैं, जिनमें 75-100 प्रतिशत काम हुए हैं। तीसरी अचीवर्स श्रेणी में वे जिले शामिल हैं, जिनमें 50-75 प्रतिशत काम हुए हैं। चौथी परफॉमर्स श्रेणी में वे जिले शामिल हैं, जिनमें अक्तूबर के लक्ष्य के सापेक्ष 25-50 प्रतिशत काम हुए हैं। पांचवीं एस्पाइरेंट्स श्रेणी में वे जिले शामिल हैं, जिनमें केवल 0-25 प्रतिशत काम हुए हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नौ दिसंबर को एलबीएस अकादमी में प्रशिक्षु आईएएस अधिकारियों को संबोधित करेंगी राष्ट्रपति मुर्मू

नौ दिसंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू लालबहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में 97 फाउंडेशन कोर्स के प्रशिक्षु अधिकारियों को संबोधित करेंगी। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने उनके मसूरी दौरे की तैयारियां तेज कर दी हैं।सोमवार को इस संबंध में अधिकारियों ने अकादमी प्रशासन के साथ बैठक की। साथ ही पुलिस […]

You May Like

Subscribe US Now