राजघरानों और ‘बाहुबली’ नेताओं के इर्द-गिर्द सिमटा पांचवा चरण

Manthan India
0 0
Read Time:1 Minute, 44 Second

अयोध्या से लेकर प्रयागराज तक पांचवें चरण में जिन 61 सीटों पर 27 फरवरी को मतदान होगा, उन पर राजे-रजवाड़ों या राजनीतिक रूप से मजबूत परिवारों का दबदबा रहा है. कुछ सीटों पर कथित ‘बाहुबली’ नेताओं के प्रभाव भी है.पांचवें चरण की जिन 61 विधानसभा सीटों पर 27 फरवरी को मतदान होने हैं, पिछले विधानसभा चुनाव में उनमें से 51 सीटों पर बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टी अपना दल ने जीत हासिल की थी लेकिन 2022 में स्थितियां बदल गई हैं |

2017 में समाजवादी पार्टी को इस चरण में सिर्फ पांच सीटें मिली थी जबकि कांग्रेस पार्टी को एक सीट हासिल हुई थी. दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई थी जिनमें से एक सीट प्रतापगढ़ जिले की बहुचर्चित सीट कुंडा भी है जहां से रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया पिछले कई साल से लगातार विधायक रहे हैं. बीएसपी को साल 2017 में इस चरण में एक भी सीट नहीं मिली थी.

राजा भैया को चुनौती प्रतापगढ़ की कुंडा सीट से राजा भैया इस बार निर्दलीय की बजाय अपनी पार्टी जनसत्ता दल से चुनाव लड़ रहे हैं. राजा भैया अब तक निर्विरोध भले ही जीतते आए हैं लेकिन इस बार उनकी लड़ाई आसान नहीं दिख रही है.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यूपी चुनाव: राम मंदिर निर्माण से BJP को अयोध्या में SP पर बढ़त

अयोध्या में, राम मंदिर के निर्माण और शहर के विकास के साथ, भारतीय जनता पार्टी अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी (सपा) पर बढ़त बनाती दिख रही है। अयोध्या के रहने वाले राम शहारे पांडे ने एएनआई को बताया, “हम यहां विकास के नाम पर वोट करेंगे।” यह पूछे जाने पर […]

Subscribe US Now