दून से अल्मोड़ा अब सिर्फ डेढ़ घंटे का सफर, सीएम धामी ने किया हवाई सेवा का फ्लैग ऑफ

Manthan India
0 0
Read Time:2 Minute, 35 Second

उड़ान योजना के तहत शुक्रवार को देहरादून से अल्मोड़ा के लिए हेली सेवा शुरू हुई। इससे डेढ़ घंटे में दून से अल्मोड़ा पहुंच सकेंगे। सड़क मार्ग से 12 से 13 घंटे का सफर तय करना पड़ता है। हेली सेवा का प्रति यात्री 7700 रुपये तय किया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर हेली सेवा का शुभारंभ किया।

हाल ही में मुख्यमंत्री धामी ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात कर प्रदेश में हवाई कनेक्टिविटी के विस्तार का मामला उठाया था। सीएम ने देहरादून से अल्मोड़ा हेली सेवा संचालित करने की अनुमति देने की मांग रखी थी। इस पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने पवन हंस को देहरादून से अल्मोड़ा के बीच हेली सेवा संचालित करने की अनुमति दी है। हेली सेवा जौलीग्रांट एयरपोर्ट से पंतनगर, हल्द्वानी, अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ तक चलेगी। यही रूट वापसी का रहेेगा। हेली सेवा का संचालन पवन हंस एविएशन कंपनी के माध्यम से किया जाएगा। यह सेवा सप्ताह में एक दिन शुक्रवार को ही चलेगी।

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सी. रवि शंकर ने बताया देहरादून से अल्मोड़ा के लिए हवाई सेवा शुरू होने से पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ ही स्थानीय लोग भी कम समय में सफर कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि अभी डीजीसीए की ओर से हेली सेवा को सप्ताह एक दिन चलाने की अनुमति दी है। यात्रियों की संख्या बढ़ने पर इसे प्रतिदिन भी किया जा सकता है।

ये रहेगा किराया

    स्थान                      किराया
देहरादून से अल्मोड़ा       7700
देहरादून से पंतनगर        6339
देहरादून से हल्द्वानी         6339
देहरादून से पिथौरागढ़      8083

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

4500 से अधिक पदों पर लटकी शिक्षक भर्ती एवं पदोन्नति, इन अभ्यर्थियों को नहीं मिली नियुक्ति

प्रदेश में बेसिक और माध्यमिक शिक्षा में 4500 से अधिक पदों पर शिक्षकों की भर्ती एवं पदोन्नति लटक गई है। इसमें सहायक अध्यापक एलटी के 600 पदों पर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से शिक्षकों का चयन किया गया, लेकिन आयोग में हाल ही में जो कुछ हुआ इसके […]

Subscribe US Now